Anuvadi Swar(अनुवादी स्वर)

Home    /    Anuvadi Swar(अनुवादी स्वर)
Classical Music

Anuvadi Swar(अनुवादी स्वर)

In Hindustani Classical Music the notes in a Raag that are neither Vadi or Samvadi are called its Anuvadi notes. They are often addressed as companion or attendant notes.

 

अनुवादी स्वर-वादी और संवादी के आलावा राग में प्रयुक्त होने वाले सभी अन्य स्वर अनुवादी स्वर कहलाते हैं।