Alap (आलाप)

Home    /    Alap (आलाप)
Classical Music

Alap (आलाप)

In Hindustani classical music alap has its own significants. Alap is a different combination of swaras sung or played in slow or medium speed. It is usually sung before presenting a raag. Alap describes a raag. These are not a part of the songs composition

राग के स्वरों को विलंबित लय में विस्तार करने को आलाप कहते हैं |आलाप को आकार की सहायता से या नोम तोम जैसे शब्दों का प्रयोग करके किया जा सकता हैं,गीत के शब्दों का प्रयोग करके जब आलाप किया जाता हैं तो उसे आलाप कहते हैं|